RAM kya hai,रैम के प्रकार,लाभ,परिभासा,नुकशान | What is RAM in Hindi

नमस्कार आपका Technovichar.com में स्वागत है। आजके इस Article में हम RAM के बारेमे देखने वाले है। जैसे की RAM क्या है , उसके प्रकार , कैसे Work करता है,Random Access Memory की पूरी जानकारी Hindi में तो चलिए जानते है की आखिर RAM kya hai ??


What is RAM and Types, Advantages, Definition, Disadvantages of RAM in Hindi


Page Content


RAM kya hai? (What is RAM in Hindi)

1) SRAM - Static RAM

2) DRAM - Dynamic RAM

RAM कैसे काम करता है ?

RAM Features इन हिंदी 

RAM के लाभ

RAM के नुकसान ??

Full Forms Related to RAM

Computer में RAM कैसे Check करे ??

Mobile में RAM Check कैसे करे ??


RAM क्या है? (What is RAM in Hindi)



RAM का फुल फॉर्म "Random Access Memory" है, जिसे कंप्यूटर की Main Memory भी कहा जाता है। यह एक अस्थायी स्टोरेज है, यानी Device के बंद होते ही Store Data अपने आप Delete हो जाता है। 



उसके बाद, उस डेटा को पुनर्प्राप्त नहीं किया जा सकता है। इसीलिए RAM को एक Volatile Memory भी कहा जाता है। यह एक मेमोरी है जिसमें एक Semiconductor और एक  Flip-lop शामिल है।



उदाहरण से समझते है , जब आप अपने Computer / Laptop / Mobile में कोई Application/Game/File Open या Run करते है तो यह App जिस Memory में Run होती है वही RAM है। 



जबभी हम Device में एक साथ कई Application चलते है तो RAM में Load बढ़ता है तो इससे Device की Speed Slow हो जाती है।  आमतौर पर दो प्रकार के RAM होते हैं


RAM की परिभाषा



RAM (रैंडम एक्सेस मेमोरी) एक कंप्यूटिंग हार्डवेयर है जहां ऑपरेटिंग सिस्टम (ओएस), एप्लिकेशन प्रोग्राम और वर्तमान उपयोग में डेटा को रखा जाता है जिससे डिवाइस के प्रोसेसर द्वारा उन्हें जल्दी से पहुंचा जा सके।



रैम के प्रकार


1) SRAM - Static RAM



SRAM का पूरा नाम Static Random Access Memory है। जब Device Off हो जाता है, तो उसका डेटा भी खो जाता है। यह Data / Information को जल्दी से Access करता है इसलिए इसे Cache Memory भी कहा जाता है। SRAM Flip-Flop के साथ बनाया गया है इसलिए यह Refresh नहीं होती या कम होती है। 



2) DRAM - Dynamic RAM



DRAM का मतलब  Dynamic Random Access Memory है। SRAM की तुलना में, इसकी Data Read Speed थोड़ी कम है, इस तथ्य के कारण कि इसे बार-बार Refresh करना पड़ता है। इसे प्रति सेकंड हजारों बार Refresh किया जाता है और SRAM की तुलना में DRAM काफी कम Price वाला होता है। यह ज्यादातर उपकरणों - Devices में इस्तेमाल होने वाली RAM है।



RAM कैसे काम करता है ?



Random Access Memory कंप्यूटर Memory का सबसे महत्वपूर्ण हिस्सा है। इसे Random Access कहने का कारण यह है कि यदि आप किसी सेल के Row और Column  के Intersect Point  को जानते हैं, तो आसानी से  किसी भी Memory सेल तक पहुँच सकता है।



इससे पहले कि आप इसके Working Process को समझें, यह जान लें कि यह एक Integrated Circuit भी है जो लाखों transistors और capacitors से बना है।

 


इसमें एक Capacitor और एक Transistor होते हैं जो Single Bit को Represent करने वाले Memory Cell का निर्माण करते हैं।



Capacitor 0 और 1 के रूप में  Information रखता है। Transistor एक Switch के रूप में कार्य करता है। यह Memory के Circuit को भी Control करता है, अर्थात यह Capacitor को पढ़ता है और अपनी स्थिति बदलता है। अब, आइए जानें कि यह कैसे काम करता है।



एक Capacitor bucket ,electron को स्टोर करने की क्षमता रखता है । Memory  Cell में 1 रखने के लिए एक Bucket में Electron भरे जाते हैं। इसे(0) स्टोर करने के लिए Empty छोड़ दिया जाता है। 



Capacitor bucket के साथ समस्या यह है कि इसमें एक leakage होता है । पूरी Bucket कुछ Milliseconds के अंदर Empty हो जाता है ।



यही कारण है कि Dynamic Memory काम करने के लिए, CPU या memory Controller को  सभी कैपेसिटर (जो 1 को Hold करते है वह) को Recharge करना होता है। 



समय-समय पर Dynamic Memory Capacitor को Update करना आवश्यक है अन्यथा यह Emission होगा और 0 हो जाएगा। 



बार बार Refresh Operation के कारण, इसे Dynamic कहा जाता है, इसे Refresh न करे तो यह भूल जाता है कि इसमें क्या Hold किया गया है है।




RAM Features इन हिंदी 


  • अब तक आपने Main Memory से संबंधित कई बातें पढ़ी होंगी, और अब आप इसकी कुछ विशेषताओं को जान ले जो निचे दी गई है। 

  • इसे  Volatile Memory के नाम से भी जाना जाता है क्योंकि यह Power On होने तक Data को याद रखता है।

  • RAM को Primary memory भी कहा जाता है क्योंकि इसके कारण सभी Software काम करते हैं। App और Software को दूसरे Storage पर स्टोर किया जाता है, लेकिन इसके लिए काम करने के लिए केवल Primary Memory की आवश्यकता होती है। Software Execution इस पर होता है।

  • Hard Disk या अन्य Storage Device की तुलना में RAM का आकार हमेशा बहुत छोटा होता है।

  • Size में कम है, पर इसकी Cost बहुत ज्यादा होती है।

  • Primary Memory की क्षमता जितनी अधिक होगी, Device की क्षमता उतनी ही अधिक होगी। और किसी भी Software का ऑपरेटिंग समय उसकी क्षमताओं पर निर्भर करता है।



RAM के लाभ 


  • RAM का मुख्य कार्य वह जिसभी Device में  स्थापित है उस Device की Speed और Performance को बढ़ाना है, लेकिन यह निर्भर करता है कि आपकी RAM कितना GB है , आपके Device की Performance उतनी अधिक होगी। 

  • यह बहुत कम Power पर भी काम कर सकता है, इससे उस Device की बैटरी लाइफ अच्छी रहती है। 

  • इसमें कोई Moving Part नहीं होता। 

  • RAM की मदद से CPU Data को Fastly Read कर सकता है। 

  • यह आपकी ज़रूरत के किसी भी Operation को Write और Erase कर सकता है।



RAM के नुकसान ??


  • कम Memory RAM को कंप्यूटर पर लगाया जाता है क्योंकि इसकी कीमत थोड़ी अधिक है।

  • यह CPU Cache की तुलना में Slow है।

  • RAM बहुत Costly होता है।

  • यह Volatile है जिसका अर्थ है कि यह किसी भी डेटा को स्थायी रूप से Store नहीं कर सकते। 

  • RAM के फायदे ज्यादा है और उसके नुकशान कम है। 



Full Forms Related to RAM



  • RAM – Random Access Memory
  • DRAM – Dynamic Random Access Memory 
  • SRAM – Static Random Access Memory 
  • SIMM – Single In-line Memory Module 
  • DIMM – Dual In-line Memory Module 
  • DDR– Double Data Rate 
  • LPDDR – Low-Power Double Data Rate 
  • DDR-SDRAM – Double Data Rate Synchronous Dynamic Random Access Memory 




Computer में RAM कैसे Check करे ??



MY PC और THIS PC में Right Click करके Properties में जाए। वह पर About Section में आपको Device की सारी Details जानने को मिलेगी। Installed RAM ही आपके Device की RAM कहलाती है 



Mobile में RAM Check कैसे करे ??



Mobile में About Phone Section में Storage Section में आपके Phone Storage की सारी Details होगी। वहा पर आप RAM Find कर सकते है।  



Conclusion 


तो यह थी RAM क्या है ? - RAM की पूरी जानकारी Hindi में | RAM in Hindi। अगर आपको RAM की यह जानकारी अच्छी लगी होतो इसे Share जरूर करे। और Comment Box में इस Post के Related कोई Problem या टिप्पणी जरूर करे। हमे उम्मीद है कि यह लेख आपके लिए उपयोगी साबित होगा.



Post a Comment

0 Comments